Home Ads

Radha soami Babaji ki Sakhi | अटल कानून

Radha Soami Satsang Beas Sakhi in Hindi


अटल कानून 

रामायण मे एक बात आती है, बाली ने तप करके ऐसा वर हासिल कर लिया था की जो भी उसके साथ युद्ध करना चाहता था उसका आधा बल  बाली मे आ जाता था |
इसलिए सुग्रीव जब भी बाली के साथ युद्ध करने जाता था तो हार कर वापिस आता था|
सुग्रीव ने जब रामचन्द्र जी से मदद मांगी तो राम जी ने उसकी मदद करने का संकल्प किया|
बाली की इस ताकत की वजह से राम जी को उसे हराने के लिए छुप कर उसपर वार करना पड़ा|
राम जी ने एक पेड़ के पीछे छिप कर बाली के ऊपर तीर चलाया जिससे बाली की मृत्यु हो गयी|
मरने से पहले बाली ने राम जी को कहा "प्रभु मेरा कोई आपसे झगड़ा नही था फिर भी अपने छुप कर मुझपे वार किया, इसका हिसाब आपको अगले जनम मे आपको देना पड़ेगा |"

इसी कारणवश जब राम चंद्र जी अगले जनम मे श्री कृष्ण जी बने और बाली भील का जनम लेकर आया|
महाभारत का युद्ध खतम होने के बाद एक दिन जब श्री कृषन जी जंगल मे आराम कर रहे थे तो भील ने दूर से समझा की कोई हिरण है, क्यूंकी उनके पाँव मे पदम का निशान था जो धूप मे चमक कर हिरण की आँख की तरह लग रहा था|

उसने निशाना बांध कर तीर छोड़ा और तीर जाकर कृषन जी को लगा, जब भील अपना शिकार लेने के लिए गया तो अपनी भूल पर बहुत पछताया |
उसने श्री कृष्ण जी के चरणों मे गिर कर माफी मांगी|

श्री कृष्ण जी ने उसे उठाया और पिछले जन्म की पूरी बात बताई|
और बताया की ये तो होना ही था, उन्हे अपने कर्मो की हिसाब किताब तो देना ही था, इसमे उसकी कोई गलती नही है|
------------------
Ye Bhi Padhen- क्या सतसंगी संसार मे वापस आयेगा
------------------
To dekha apne sangat ji, Karmon ka hisab kitab to santon mahatmaon ko bhi dena padega.
aur bhi radha soami sakhiyan padhne ke liye is website ko Bookmark kren.
Radha Soami Sakhi


Post a comment

0 Comments