Radha Soami Babaji Ki Sakhi 2019 | Babaji Nikamon Ke Doctor। बाबाजी निकम्मों के डॉक्टर हैं।


राधास्वामी जी...
यह साखी अभी हाल ही में एक मित्र नें सुनाई....आप सब के साथ शेयर करता हूं
कुछ वक्त पहले हमारे बाबा जी नयूजीलैंड गये थे वहां पर बहुत से भारतीय , सतसंगी परिवार रहते हैं...
एक परिवार जिनका बेटा मानसिक बिमार था पर वह बाबा जी की फोटो देख कर बाबा बाबा बोलता रहता था... तो माता पिता दोनो सतसंग सुनने और दर्शन करने जाना चाहते थे पर वो यह सोच रहे थे कि बेटे का क्या करें.... उनको ऐसा लगता था कि बेटे को अगर साथ लेकर जाएंगे तो वो उनको ठीक से न तो सतसंग सुनने देगा और न ही उसकी वजह से अच्छे से उनको दर्शन ही हो पाएंगे... उसके साथ होने की वजह से सेवादार उनको आगे नहीं बैठने देंगे...इस मौके को वो जाने नहीं देना चाहते थे... रात भर सोचने के बाद उनहोंने यह फैंसला किया कि सतसंग सुनने और दर्शनों के लिए जाना ही है पर वो बेटे को साथ नहीं लेकर जाएंगे... 


और अगली सुबह वो बेटे को सोता छोड़ कर निकल गये पर घर का दरवाजा लौक नहीं किया... उधर वो सतसंग पर पहुंचे इधर बाबाजी उनके घर पहुंच गये... बाबा जी को देख कर उनका बेटा बाबा बाबा कर जोर जोर से रोने लगा उसकी आवाज़ सुन कर उनके पड़ोसी दौड़ कर आए तो उनहोंने बाबा जी को बेटे से बात करते देखा तो वो हैरान रह गये...
वो लड़का जो बोल नहीं सकता था बाबा जी से बात कर रहा था एकदम बिलकुल ठीक ठाक हो गया था... बाबा जी नेंबेटे से कहा लो बेटा तुम मुझे बुलाते रहते थे ना तो मुझे आना ही पड़ा... 


साखी- मूर्ख को समझाना बेकार

पड़सियों नें देखा कि यह तो वही सरदार जी हैं जिनकी फोटो दिवार पर लगी है
फिर बाबा जी वहां से चले गये... दोपहर को जबपति पत्नी वापिस लौटे तो पड़ोसी उन्हें घर के बाहर ही मिल गये और सारा किस्सा कह सुनाया सुन कर वो दोनो सन्न रह गये और वहीं बैठ गये अपने बेटे को बिलकुल ठीक ठाक हुआ देख करदोनो रोने लगे... पर पड़सियों नें पूछा कि वो जो सरदार जी जिनकी फोटो आप नें अपने घर में लगाई हुई है...क्या वो कोई डाक्टर हैं जो उनहोंने आपके बेटे को ठीक कर दिया...!!




तो वो दोनो रोते हुए बोलो हां वो हम जैसे निक्कमों के डाक्टर हैं जो हमें सुधारनें यहां आए थे...और चुपके से प्यार की असली अहमियत समझा कर चले गये हैं... मेरा बेटा उनको बहुत प्यार करता है दिन रात उनको याद करता है... पर हम फिर भी अपने सवार्थ के चलते उसे सोता छोड़ कर अकेले दर्शन करने चले गये थे पर बाबा जी खुद चल करयहां उसे दर्शन देने आ गये और उसको ठीक भीकर दिया.... सो अपने सतगुर के लिए अगर हमारे दिल में सच्चा प्यार है तो वो दिखाना नहीं पड़ता..वो सब जानते हैं...🙏









Post a Comment

0 Comments