Meri Maut Kab Hogi। मेरी मौत कब होगी। Radha Soami Sakhi

Meri Maut Kab Hogi| Radha Soami Sakhi

एक सत्संगी सेवादार साथ के गांवों का था |

Ads by google

वो जब भी  व्यास मैं आता तो बाबा जी से एक बात पूछता की मेरी मौत कब होगी या मैं कब मरूंगा |
 तो हजूर जी हर बार उसकी बात को टाल देते | एक दिन वो जिद कर के बैठ गया की बाबा जी आज आपको बताना ही पढ़े गा | 
तो बाबा जी कहने लगे की तू नहीं मानेगा चाल आज मैं तुझे बता ही देता हूँ | तो बाबा जी थोड़ी देर चुप होने के बाद कहने लगे के तू कल मर जायेगा । यह बात सुना कर तो उसके पैरों के तले से जमीन ही निकल गई गो | वो उस वक़्त चुप हो गया उसे मरने का डर लग रहा था | अगर किसी भी सत्संगी ने खूब नाम सिमरन किया हो तो मौत के नाम से नहीं डरता है | और न ही मौत से | पर उसने सेवा खूब की थी लेकिन भजन सिमरन नहीं किया था | उसके मन मैं यह था की पूरी उम्र बीत गई और भजन सिमरन तो हुआ ही नहीं और अंदर भी कुछ देखा नहीं |

वो सत्संगी यह सोचता है के आधा दिन और एक रात अभी बाकि है
वो सत्संगी अपने घर आ गया और उसका सिमरन लगातार चल  रहा था वो एक पल का भी फायदा ले रहा था |वो सीधा अपने घर आया और सीधा अपने कमरे मैं आ गया |

 उसने अपने घर वालों को बोल दिया के मुझे कोई परेशान न करे और कल बहार से दरवाजा तोड़ कर मुझे निकल ले | वो सतसंघी सारी रात भजन करता रहा और उसका दशम द्वार  खुल गया | 
सुब्हे क्या देखता है के वो मरा ही नहीं जिन्दा था । उसने अपने मन मैं सोचा की मैं तो मरा ही नहीं बाबा जी ने मुझ से झूठ क्यों बोला | 
Read sakhi - Bhagwan Ki Bhakti Kyu

वो सीधा डेरे ब्यास बाबा जी के पास गया उसने बाबा जी को बोला बाबा जी अपने तो मुझे कहा था की मैं कल तक मर जाऊँगा देखो मैं तो जिन्दा हूँ | तो बाबा जी ने कहा कि तू मर तो गया है तू जीते जी मर तो गया है  |वो सत्संगी  रोने लगा और बाबा जी मुझे माफ़ कर दो कह कर बाबा जी के पैरों मैं पढ़ गया .......... 
Click here to read sakhiyan, satsang schedule 2019 , 
Radha soami Sakhi, Satsang beas hindi 2019


Post a Comment

0 Comments