जानिए कैसे करना है भजन सिमरन। Radha soami sakhi




हम सबको भजन सिमरन करने का हुक्म है।


पर सही तरीका क्या है ? 
बाबाजी नामदान के वक्त सही तरीका समझाते है। आप भी पढ़ें और जाने

1. सिमरन हमेशा छुप कर करना चाहिए। खुद को ढक लेना चाहिए, ताकि हमें कोई देख न सके और हम बिना किसी बाधा के सिमरन कर सके।

2. सिमरन सुबह 3 बजे उठकर, नहा धोकर करना चाहिए, नहाना इसलिए जरूरी है ताकि सुस्ती न आ सके, और कोई खास कारण नही है।
 Ads by Google

3. रात को भोजन संयम से करना चाहिए ताकि ज्यादा नींद न आये और हम रात को भी सिमरन कर सकें।

4. खाना हमेशा शाकाहारी और हल्का फुल्का होना चाहिए, ताकि शरीर बीमारियों से बचा रहे।

5. किसी भी प्रकार के नशे का सेवन वर्जित है।

6. प्रेम करें, मोह नहीं।

7. अपने अन्दरूनी रहस्यों को कभी दूसरों को न बताएं, इससे आपकी ही दौलत कम होगी।

8. क्रोध को कोसों दूर रखें। क्रोध और सिमरन ये उलट है।


9. सतगुरु का चिंतन हमेशा करते रहे। एक पल के लिए भी नाम को न भूलें।

10. संयम से काम लें। परइस्त्री( परायी इस्त्री) पर कभी भी नजर न रखे। ये आपकी वर्षों की कमाई दौलत को मिट्टी कर सकता है। और आपको पीछे धकेल सकता है।
www.RadhaSoamiSakhi.org
11. कभी शिकायत न करें। जो मिल रहा है या मिलेगा सब आपके कर्मों का नतीजा है। और किये हुए कर्मों से तो भगवान भी नही बच सकते। विवेक से काम लें।

12. नियमित सत्संग सुने। सबको प्रेम करें पर कभी भी नास्तिक के साथ बहस न करें। उनकी संगत कम करें।

13. बच्चों को अच्छी शिक्षा दें। वो नए समाज की आधारशिला है। अपना योगदान दें।

14. रोज अपने वक्त में से 2.30 घंटे दें। अगर नया नया नाम दान लिया है तो धीरे धीरे समय बढ़ाएं।

15. रोज रात को खुद को पूछें कि आज आपने क्या अच्छा काम किया। इससे आपको दूसरों की मदद करने की प्रेरणा मिलेगा और आपकी तरक्की आसान होगी

अगर इन 15 सुनहरी नियमों का पालन करोगे तो परमात्मा आपसे दूर नही है। फिर जिंदगी से कोई शिकायत या शिकवा नही रहेगा।
राधा स्वामी जी सबके साथ शेयर करें


Post a Comment

9 Comments