Posts

Showing posts from February, 2019

भगवान की भक्ति क्यों ? Why to Pray God ? Radha Soami Sakhi

Image
🌹किसने दिया ?🌹
-----------------

 राजा अकबर ने बीरबल से पूछा कि तुम लोग सारा दिन भगवान की भक्ति करते हो, सिमरन करते हो ,उसका नाम लेते हो।
 आखिर भगवान तुम्हें देता क्या है ?
बीरबल ने कहा कि महाराज मुझे कुछ दिन का समय दीजिए ।
बीरबल एक बूढी भिखारन के पास जाकर कहा कि मैं तुम्हें पैसे भी दूँगा और रोज खाना भी खिलाऊंगा, पर तुम्हें मेरा एक काम करना होगा ।  
बुढ़िया ने कहा ठीक है - जनाब  
बीरबल ने कहा कि आज के बाद 
-अगर कोई तुमसे पूछे कि क्या चाहिए तो कहना अकबर, 
-अगर कोई पूछे किसने दिया तो कहना अकबर शहंशाह ने ।   
वह भिखारिन अकबर को बिल्कुल नहीं जानती थी, पर वह रोज-रोज हर बात में अकबर का नाम लेने लगी ।  
कोई पूछता -
-क्या चाहिए तो वह कहती अकबर,  
-कोई पूछता किसने दिया, तो कहती अकबर मेरे मालिक ने दिया है । 
धीरे धीरे यह सारी बातें अकबर के कानों तक भी पहुँच गई ।  
वह खुद भी उस भिखारन के पास गया और पूछा यह सब तुझे किसने दिया है ? 
तो उसने जवाब दिया, मेरे शहंशाह अकबर ने मुझे सब कुछ दिया है ।
फिर पूछा और क्या चाहिए ? 
तो बड़े अदब से भिखारन ने कहा - अकबर का दीदार, मैं उसकी हर रहमत का शुक्राना अदा करना चाहती हूँ, बस…

Dera beas ki video| डेरा ब्यास की वीडियो। कैसा माहौल होता है ब्यास में

Image
ब्यास का माहौल, जरूर देखें ये वीडियो और शेयर भी जरूर करें ब्यास में दिन की शुरुआत सायरन से होती है, जो संगत जो अमृतवेले सिमरन करने के लिए जगाता है।
बाकी वीडियो में देखें।



प्रार्थना के चार शब्द। Four Words of Prayer। Radha Soami Sakhi

Image
*एक जादूगर* जो मृत्यु के करीब था, मृत्यु से पहले अपने बेटे को चाँदी के सिक्कों से भरा थैला देता है और बताता है की "जब भी इस थैले से चाँदी के सिक्के खत्म हो जाएँ तो मैं तुम्हें एक प्रार्थना बताता हूँ, उसे दोहराने से चाँदी के सिक्के फिर से भरने लग जाएँगे । 

उसने बेटे के कान में चार शब्दों की प्रार्थना कही और वह मर गया । अब बेटा चाँदी के सिक्कों से भरा थैला पाकर आनंदित हो उठा और उसे खर्च करने में लग गया । वह थैला इतना बड़ा था की उसे खर्च करने में कई साल बीत गए, इस बीच वह प्रार्थना भूल गया । जब थैला खत्म होने को आया तब उसे याद आया कि "अरे! वह चार शब्दों की प्रार्थना क्या थी ।" उसने बहुत याद किया, उसे याद ही नहीं आया ।

अब वह लोगों से पूँछने लगा । पहले पड़ोसी से पूछता है की "ऐसी कोई प्रार्थना तुम जानते हो क्या, जिसमें चार शब्द हैं । पड़ोसी ने कहा, "हाँ, एक चार शब्दों की प्रार्थना मुझे मालूम है, "ईश्वर मेरी मदद करो ।" उसने सुना और उसे लगा की ये वे शब्द नहीं थे, कुछ अलग थे । कुछ सुना होता है तो हमें जाना-पहचाना सा लगता है । फिर भी उसने वह शब्द बहुत बार दोहराए, ले…

खोटा सिक्का या खरा सिक्का। Beautiful saakhi। Radha Soami Sakhi

Image
एक मालिक का प्यारा शख्श जिसका नाम करतार था....

Must Read

एक मालिक का प्यारा शख्श जिसका नाम करतार था वह छोले बेचने का कारज करता था उसकी पत्नी रोज सुबह-सवेरे उठ छोले बनाने में उसकी मदद करती थी एक बार की बात है कि एक फकीर जिसके पास खोटे सिक्के थे उसको सारे बाजार में कोई वस्तु नहीं देता हैं तो वह करतार के पास छोले लेने आता हैं करतार ने खोटा सिक्का देखकर भी उस मालिक के प्यारे को छोले दे दिए।
ऐसे ही चार-पांच दिन उस फकीर ने करतार को खोटे सिक्के देकर छोले ले लिए और उसके खोटे सिक्के चल गए और जब सारे बाजार में अब यह बात फैल गयी की करतार तो खोटे सिक्के भी चला लेता हैं पर करतार लोगों की बात सुनकर कभी जबाव नहीं देते थे..
और अपने मालिक की मौज में खुश रहते थे।
एक बार जब करतार अरदास पढ़कर उठे तो अपनी पत्नी से बोले ---"क्या छोले तैयार हो गए..??"
पत्नी बोली ---"आज तो घर में हल्दी -मिर्च नहीं थी और मैं बाजार से लेने गयी तो सब दुकानदारों ने कहा कि--यह तो खोटे सिक्के हैं और उन्होंने सामान नहीं दिया।"

Also Read - प्रार्थना का प्रभाव

पत्नी के शब्द सुनकर करतार मालिक की याद में बैठ गए और मा…