डेरा ब्यास question answer 27-05-2017


                              


डेरा ब्यास question answer 27-05-2017

1. लड़का- बाबाजी क्या मुक्ति के लिए नाम दान लेना जरूरी है
बाबाजी - नहीं बेटा। ऐसा बिल्कुल भी नही है। अगर दिल मे प्रेम और बिरह है तो मालिक जरूर बख्शीश करेंगे।
****************
2. लड़का - बाबाजी मैं engineering और medical में से किसी एक को चुनना चाहता हूं और मैं दोनों में अच्छा हु। क्या करूँ
बाबाजी - अकड़ बकड बंबे बो। असी नबे पूरे सो। (संगत में जोरदार ठहाका) 
लड़का - बाबाजी हेल्प कीजिये न
बाबाजी- तू ऐसा कर आधा इंजीनियर बनजा और आधा डॉक्टर। डॉक्टर बनके टांग काट देना और इंजीनियर बनके नई लगा देना। (संगत जोर से हँसने लगी)
****************
3. लड़की ( रोते हुए) - बाबाजी मेरे से गलती हो गयी है। क्या आप मुझे माफ़ करदोगे।
बाबाजी - बेटा अगर गलती हुई है तो उसका फल तो भुगतना ही पड़ेगा।
लड़की( और रोते हुए) - बाबाजी फिर मैं क्या करूँ की आप माफ करदोगे
बाबाजी - बेटा अपनी गलतियों से सीखो। अगर दुबारा वही गलती करोगे तो दुगना फल भुगतना पड़ेगा।
****************
4. लड़की - बाबाजी मेरा रिजल्ट आने वाला है। किरपा करना
बाबाजी - मुस्कुराते हुए, बेटा मिलेगा तो वही जो लिखा होगा
****************
www.facebook.com/maharajcharansingh

5. लड़का- बाबाजी मैं ऐसा क्या करूँ की अपना ख्याल बार बार आये।
बाबाजी - शादी करले। जब बीवी तंग क
रेगी तो बार बार बाबाजी को याद करेगा ( संगत में जोरदार ठहाका)

****************
6. लड़की - बाबाजी हमारे वहां एक अंकल है। वो सेवा करते है उनकी ड्यूटी पहले वहां थी अब वहां हो गयी
बाबाजी (टोकते हुए) - बेटा हमे किसी administration या व्यक्ति विशेष का नाम नही लेना है। सिर्फ परमार्थ की बात करनी है।
****************
7. लड़का - बाबाजी जिन्होंने नाम दान नही लिया क्या आप उनकी संभाल करेंगे।
बाबाजी - बेटा संभाल और नाम दान का कोई संबंध नही है। जो प्रेम करता है उसकी संभाल होगी।
****************
8. लड़की - बाबाजी जब कोई मर जाता है तो क्या वो तारा बन जाता है।
बाबाजी - नहीं बेटा, ये सब तो हमे समझाने के लिए है। जो मर जाता है या तो इसी चोरासी में आ जाता है या फिर परमात्मा में विलीन हो जाता है। ये नही की वो चाँद या तारा बन जाता है।
****************
9. लड़का - बाबाजी किस्मत और मेहनत का क्या संबंध है
बाबाजी - बेटा मेहनत करोगे तो उस मुकाम तक पहुंच जाओगे जहाँसे किस्मत तुम्हे ढूंढ सके। बिना किस्मत के भी सारी मेहनत बेकार है। पर इसका ये मतलब नही की सब किस्मत के भरोसे छोड़ देना चाहिए।
****************
10. लड़की - बाबाजी आप सभी को एक एक करके क्यों ले जाते हो। सबको एक साथ क्यों नही ले जाते (संगत जोर से हँसने लगी)
बाबजी- अरे बाबा ने कोई जहाज थोड़ी लेके रखा है जो सबको साथ ले जाये।
और अगर ले भी गए तो पता है कितना सूना सूना हो जाएगा सब कुछ (संगत फिर से हँसने लगी)

**शेयर करें सबके साथ**
राधा स्वामी जी

Comments

Popular posts from this blog

Sundar kahani। क्यों दिया जज ने पत्नी को तलाक। Maa ka sath de।

कहानी गुरु अर्जन देव जी और राजा की । पिछले जन्म के कर्म। Pichle Janm Ke Karm

फल अनजाने कर्म का । Anjane Karm ka Fal